कैसे सुधारे अपनी Body Language ?

जब भी हम किसी व्यक्ति से मिलते हैं तो व्यक्ति हमारी dressing हमारे हाव-भाव से हमारे बारे में अपनी एक राय कायम कर लेता है। अकसर देखने में आता है कि हम अपने कपड़ों पर तो ध्यान देते हैं लेकिन body language की ओर हमारा कोई खास ध्यान नहीं होता है, परंतु अगर आप चाहे तो अपनी body language को बेहतर बना कर अपनी personal और professional जिंदगी में सफलता की सीढ़ियां चढ़ सकते हैं। 

कहते है की, First impression is the last impression और ऐसे में जरुरी है की जब भी आप किसी से मिले तो आपक व्यक्तिमत्व और हाव-भाव ऐसा होना चाहिए की मिलने वाला आपसे आकर्षित हो और आप positive नजर आये।

अपने Body language को कैसे आकर्षक बनाये इसकी जानकारी इस लेख में निचे दी गयी हैं :
how-to-improve-body-language-in-hindi

अपने बॉडी लैंग्वेज / व्यक्तिमत्व को कैसे सुधारे ?

How to improve body language or personality in Hindi


  • हाव-भाव पर ध्यान दे : शायद आपको पता ना हो लेकिन लोग आपके शब्दों से ज्यादा आपके हाव-भाव पर ध्यान देते हैं .एक ही शब्द के कई अर्थ होते हैं और अगर आप अपनी बातों को किसी अर्थ में कर है इसका पता आपके हाव-भाव से ही चलता है। इसलिए अपनी बातों को सही तरीके में समझाने और महत्वपूर्ण बनाने के लिए आवश्यक है कि आप अपने हाव-भावों पर भी ध्यान दें। 
  • जरूरी है आए कांटेक्ट : जब भी आप किसी से बात करें तो हमेशा ही आई कांटेक्ट बनाकर रखें। इससे ना सिर्फ आपकी बातों का प्रभाव अधिक पड़ता है बल्कि सामने वाले व्यक्ति को यह एहसास होता है कि आप उनकी बातों में दिलचस्पी ले रहे हैं। साथ ही यह आपके आत्मविश्वास को भी दर्शाता है। वैसे सामने वाले व्यक्ति को बड़े ही विनम्र तरीके से देखें अन्यथा आपके समक्ष खड़े व्यक्ति को लगेगा कि आप उसे घूर रहे हैं। 
  • रखे पॉजिटिव इमेज : आप जब भी किसी से बात करें तो हमेशा ही उसके प्रति एक सकारात्मक सोच रखें। जब आपकी सोच सकारात्मक होंगी तो आपकी बॉडी लैंग्वेज खुद-ब-खुद सही हो जाएगी। इतना ही नहीं आपके सकारात्मक व्यवहार के कारण लोग ना सिर्फ आप से आसानी से बात कर पाएंगे बल्कि यह आपके लिए काफी फायदेमंद भी साबित होगा। 
  • बहुत अधिक न झुके : जब भी आप कहीं बैठे हो तो ना ही बहुत अधिक तनकर और ना ही बहुत अधिक ढीले होकर बैठे। साथ ही बैठते वक्त आपकी नजरें जमीन पर ना हो और ना ही आपका शरीर बहुत अधिक झुका हुआ हो। यह आपके प्रत्येक नकारात्मक दृष्टिकोण बनाता है। इस प्रकार का बॉडी पोस्चर आपको असुरक्षा की भावना से ग्रस्त व कहीं खोया हूआ दिखाएगा। इसके अतिरिक्त कभी हाथ-पैरों को मोड़कर ना बैठे हैं। इसके बजाय हमेशा स्ट्रेट रिलैक्स अवस्था में बैठे हैं। 
  • सौम्य हो आप का तरीका : कभी-कभी देखने में आता है कि कुछ व्यक्तियों के हावभाव तीखे होते हैं। यह आपके व्यक्तिमत्व का नकारात्मक दृष्टिकोण दिखाता है। इसलिए कोशिश करें कि जहां तक हो आप के हावभाव बेहद सौम्य हो। अगर आप किसी बात के लिए परेशान भी है तो भी अपने हाव भाव में उस परेशानी का एहसास दूसरों को ना होने दें। 
  • शब्दों पर ना दें जोर : अगर आप अपनी किसी बात या शब्द पर अधिक जोर देना चाहते हैं तो इसके लिए भी आप अपने हाव-भावों व चेहरे के एक्सप्रेशन का सहारा ले सकते हैं। मसलन अगर किसी बात से आप बहुत खुश हैं तो यह आपके चेहरे से भी दिखना चाहिए। अगर आपकी बातों में हाव भाव नहीं होंगे तो आपकी बातचीत एकदम ब्लैंक हो जाएगा और कोई भी आपसे बात करने में दिलचस्पी नहीं लेगा। 
इस तरह ऊपर दी हुई बातों से आप अपनी body language को improve कर सकते है और लोगों को प्रभावित क्र सकते हैं।
अगर यह बॉडी लैंग्वेज सुधारने की जानकारी आपको उपयोगी लगी है तो कृपया इसे शेयर अवश्य करे !

0 comments:

Post a Comment

Share अवश्य करे !

जरूर पढ़े !