सॉफ्ट / कोल्ड ड्रिंक पिने के दुष्परिणाम


सॉफ्ट / कोल्ड ड्रिंक्स आजकल की जीवनशैली का हिस्सा बन चूका है। हम पौष्टिकता के बजाय स्वाद के इतने अधीन हो चुके है सॉफ्ट ड्रिंक्स से होनेवाले दुष्परिणामो पर ध्यान नही दे पा रहे है। खासकर के युवा पीढ़ी ताजा फल या फलों के जूस की तुलना में सॉफ्ट ड्रिंक्स या सोडा अधिक पसन्द करते है, वे नही जानते की ये धीमा जहर ना सिर्फ धीरे-धीरे उनके शरीर को खोंकला कर रहा है बल्कि मोटापा, डायबिटीज, ह्रदयरोग, अस्थमा, दांतों की समस्या आदि कई बीमारियों को न्योता दे रहा है।

आजकल भोजन का 1 हिस्सा सॉफ्ट ड्रिंक्स बन रहा है। इसे खाने के साथ लेने से व्यक्ति का पेट जल्दी भर जाता है, जिसके कारण खाने में मौजूद पोषक तत्व उसे नही मिल पाते। इन ड्रिंक्स में होता है तो केवल शूगर और केमिकल। अगर हम इसे केमिकल युक्त मीठा पानी कहेंगे तो शायद कुछ गलत नही होगा। इसे पीने से शरीर में सिर्फ शक्कर और केमिकल पहुँचते है। इसमें कई ऐसे तत्व भी मौजूद होते है जो धीरे-धीरे लोगों को इसका आदि बना देते है, जिस कारण व्यक्ति इन्हें बार बार लेता रहता है। इन ड्रिंक्स में मिली शक्कर की वजह से कुछ वक्त के लिए एनर्जी तो मिल जाती है लेकिन पोषक तत्व नही मिल पाते।


आइये, जानते है कुछ ऐसी ही सामान्य बीमारीयों के बारे में जिनकी वजह सॉफ्ट ड्रिंक्स का अतिसेवन है।


cold drinks side effects in hindi

सॉफ्ट / कोल्ड ड्रिंक पिने के दुष्परिणाम

  • डायबिटीज - एक स्टडी के अनुसार हर वर्ष कोल्डड्रिंक्स की बिक्री में करीबन 13 % की बढ़ोतरी हो रही है जिससे मोटापा और डायबिटीज जैसी बीमारियां भी बढ़ रही है। 2014 से 2023 के बीच सॉफ्ट ड्रिंक्स की बिक्री 39 से 49 % तक बढ़ने की आशंका है। जिससे करीब 1 लाख लोग डायबिटीज का शिकार होने की सम्भावना है। इन शुगरी ड्रिंक्स के सेवन के कुछ समय बाद ही ब्लड शूगर लेवल बढ़ जाता है।
  • ब्लड प्रेशर - कोल्ड ड्रिंक पिने के करीब 40 min बाद कैफीन का अवशोषण पूर्ण हो जाता है जिससे BP बढ़ता है।
  • मोटापा - इन ड्रिंक्स के सेवन से मोटापा 6% बढ़ता है। आजकल युवा पीढ़ी में 5 में से 2 बच्चे मोटापे से पीड़ित पाये जाते है।
  • पथरी - कुछ ड्रिंक्स में फोस्फोरिक एसिड रहता है जिससे किडनी स्टोन की सम्भावना बढ़ जाती है।
  • एलर्जी - सोडे में मौजूद सूक्ष्म जीवाणुरोधक सोडियम बेंजोएट इस प्रिसर्वेटिव के कारण शरीर में पोटैशियम की मात्रा कम होती है, जिससे लाल चकते, एक्ज़िमा, अस्थमा जैसी एलर्जी हो सकती है। 
  • दांत - सॉफ्ट ड्रिंक्स में रहनेवाले एसिड्स के कारण दांतों का इनेमल नष्ट होता है। सोडे के कारण मुँह के नाजुक और संवेदनशील त्वचा पर छाले आते है, जिससे भोजन खाने में और पचने में परेशानी होती है और पेट बिगड़ जाता है।
  • कमजोर हड्डी - सोडे में मौजूद फोस्फोरस एसिड के साथ कैल्शियम भी शरीर के बाहर निकल जाता है। जिससे ऑस्टियोपोरोसिस होता है। हड्डियां कमजोर व क्षतिग्रस्त होती है।
इस तरह कोल्डड्रिंक्स के कई दुष्परिणाम है। विदेशों में तो इस बारे में काफी जागरूकता आ चुकी है। इनके दुष्परिणामों को देखते हुए इन पर कानून बनाने की तयारी शुरू है। इसके विकल्प के रूप में चाय, कॉफी, जूस या अन्य विकल्प उपयोग करने लगे है।

देसी ड्रिंक विकल्प है बेहतर !


ड्रिंक्स के रूप में देसी विकल्प ज्यादा बेहतर होते है। दूध, छाछ, निम्बू शर्बत, नारियल पानी, लस्सी, गन्ने का रस, कैरी का पना, मैंगो शेक, एप्पल, अनार, कीवी, लीची आदि फलों के जूस जो न सिर्फ स्वादिष्ट होते है बल्कि पौष्टिक भी होते है।

ये देसी ड्रिंक्स विटामिन्स, मिनरल्स, कार्बोहाइड्रेट्स, फाइबर्स आदि से भरपूर होते है। कोशिश करे की इन्हें बिना शूगर ले ।

  1. गर्मियों में ये देसी ड्रिंक्स न सिर्फ पानी की कमी पूरी करते है बल्कि आराम भी पहुचाते है।
  2. निम्बुपानी शरीर के टॉक्सिक तत्वों को बाहर निकालकर शरीर की सफाई करता है। रक्तसंचार सही करता है और कॉलेस्टेरोल नियंत्रित करता है।
  3. जलजीरा पाचन में सहयोग करता है साथ ही शरीर को ठंडक देता है। रोग प्रतिकारशक्ति बढ़ाता है।
  4. लस्सी में आंतो के लिए उपयुक्त good बैक्टीरिया होते है। साथ ही कैल्शियम भी मौजूद होता है। शरीर को पोषण भी मिलता है।
  5. लू से बचने के लिए विटामिन C युक्त आम का पना, कोकम शर्बत, बेल का शर्बत काफी प्रभावी होते  है।
  6. छाछ से नमक की कमी पूर्ण होती है साथ में पचने में सहायक है।
  7. गन्ने का रस ग्लूकोज़ की कमी को पूरा करता है।
  8. विविध फलों के जूस विविध विटामिन्स से युक्त होते है और शरीर का पोषण करते है।
इस तरह देसी जूस में पोषक तत्वों की खान होती है, इन्हें अपनाये और सेहत बनाये। साथ ही  विदेशी कोल्डड्रिंक्स का बहिष्कार करे और देश बचाये।

अगर यह जानकारी आपको उपयोगी लगती है तो कृपया इसे share अवश्य करे !

0 comments:

Post a Comment

Share अवश्य करे !

जरूर पढ़े !